INTERNET कैसे काम करता है आप जो डीपी में देख रही हैं वहां तक पहुंचने के लिए Google डाटा सेंटर से हजारों मील की दूरी तय करता है। आइए जानें किस देवता की इंक्रेडिबल यात्रा के विवरणों को समझने के लिए इंटरनेट कैसे काम करता है एक डाटा सेंटर जो आप से हजारों मील दूर हो सकता है आपके वीडियो कॉल के अंदर संग्रहित किया जाता है। यह डाटा आपके मोबाइल से लैपटॉप पर कैसे पूछता है इस लक्ष्य को प्राप्त करने का एक आसान तरीका सेटेलाइट के उपयोग के साथ होगा इनका सेंटर से एक सिग्नल को एक एंड जिला के माध्यम से सेटेलाइट को भेजा जा सकता है और फिर सेटेलाइट से एक संगीत आपके मोबाइल फोन पर आपके पास एक अन्य एंटीना के माध्यम से खींचा जा सकता है।

Download करने का यह तरीका एक अच्छा विचार नहीं है। आज दूध क्यों सेटेलाइट बचने के लिए कोई तेरे खातिर से लगभग 22000 मील की दूरी पर स्थित है। इसलिए डाटा ट्रांसमिशन सफल होने के लिए डाटा तो कोईुल 44000 मील की दूरी तय करनी होगी यात्रा की इतनी लंबी दूरी तय करने में एक महत्वपूर्ण देरी का कारण बनती है। अधिक विशेष रूप से यह विचार बिलंबिता का कारण बनता है जो अधिकांश इंटरनेट एप्लीकेशन के लिए अस्वीकार्य है तो यह वीडियो एक सेटेलाइट के माध्यम से आप तक नहीं पहुंचता है तो आपके पास कैसे पहुंचता है?

वैसे जी ऑप्टिकल फाइबर केबल के एक जटिल नेटवर्क की मदद से किया जाता है जो DATA सेंटर और आपके डिवाइस के बीच जोड़ता है। आपका फोन सेल्यूलर डाटा चेक किसी भी भाई फायदाल के माध्यम से इंटरनेट से कनेक्ट किया जा सकता है। लेकिन अंततः कुछ बिंदु पर आपका फोन ऑप्टिकल फाइबर केबल के इस नेटवर्क से जुड़ा होगा। हमने शुरुआत में देखा कि वर्तमान में आप जो वीडियो देख रही हैं वह डाटा सेंटर के अंदर संग्रहित है। अधिक विशिष्ट गुना जिले का सैंपल के भीतर एक सॉलिटेयर डिवाइस मिल संग्रहित है। यूपी सर्वे की इंटरनल मैमोरी के रूप में कार्य करता है या अन्य सामग्री प्रदान करना है जो आपसे अनुरोध करते हैं,। अब चुनौती है कि ऑप्टिकल फाइबर की बेइज्जती नेटवर्क के माध्यम से डाटा सेंटर में चल रहे बेटा को। पैसे कैसे ट्रांसफर किया जाए से पहले एक महत्वपूर्ण अवधारणा को समझना चाहिए। आईपीएस की अवधारणा है कि दूसरे को कंप्यूटर मोबाइल फोन आईपी ऐड्रेस के रूप में जाट संख्याओं की एक्सट्रीम द्वारा विशेष रूप से पहचाना जाता है। आप अपने खेल के प्रति के समान आईपीआरडी पर विचार कर सकते हैं जो आपके घर की विशिष्ट पहचान करता है। आपके द्वारा भेजा गया कोई भी पत्र आपके घर के पते की वजह से आप तक पहुंचता है इसी तरह इंटरनेट की दुनिया में एक आई पी रजीत एक शिपिंग एड्रेस के रूप में काम करता है जिसके माध्यम से सारी जानकारी अपने डेस्टिनेशन तक पहुंचती है। आपका इंटरनेट सेवा प्रदाता आपकी डिवाइस का आईपी एड्रेस पता तय करेगा और आप देख सकते हैं कि आपकी आयु के लिए आपके मोबाइल फोन को लैपटॉप को कौन सा आईपी एड्रेस दिया है।

यह तो सिद्धू की सरगर्मी एक आईपीएस दोस्ती होता है सरवर एक WEBSITE को संग्रहित करता है इसलिए आप सरवर के आईपीएस को जानकर कि सेबी वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं। हमें किसी व्यक्ति कोे लिए कितने आईपी ऐड्रेस याद रखना मुश्किल है इसलिए इस समस्या को हल करने के विभिन्नए facebook.com आदि का उपयोग किया जाता है जो आईपीएस किरण की फोटो है जो संख्याओं के लंबे अनुक्रम की तुलना में हमें याद रखना आसान है। एक और बात ध्यान देने योग्य है कि सर्वे में कई वेबसाइटों को संगठित करने की क्षमता होती है और यदि सरवर में कई वेबसाइटें होती है तो सभी वेबसाइटों को सरवर के आईपीएल कैसे एक्सेस नहीं किया जा सकता है ऐसे मामले में जानकारी के अतिरिक्त टुकड़े पोस्ट है बीज का उपयोग वेबसाइट की विशिष्ट पहचान के लिए किया जाता है। हालांकि फेसबुक डॉट कॉम ब्लैक डॉट कॉम सेक्सी वेबसाइट।संपूर्ण गीता सिंह, टेंपल स्ट्रक्चर विच इस वेबसाइट की स्टोरेज के लिए समर्पित होगी इंटरनेट का उपयोग करने के लिए हम हमेशा कंपलेक्स आईपी ऐड्रेस की संख्या के बजाय दिलीप का उपयोग करते हैं। हमारी पेमेंट लिंक अंग्रेजों के अनुरूप इंटरनेट कोव आईपी ऐड्रेस कहाँ से मिलते हैं और इस उद्देश्य के लिए इंटरनेट के नाम से एक विशाल सिंह का उपयोग करता है कि आप किसी व्यक्ति का नाम जानते हैं लेकिन उनका टेलीफोन नंबर नहीं जानते हैं। आपसे केवल फोन बुक में देख सकते हैं कि अमित तवर इंटरनेट को सामान सेवा प्रदान करता आपका इंटरनेट सेवा प्रदाता या अन्य संगठनों ने सरकार को मैनेज कर सकते हैं जो पूरे ऑपरेशन का रिचार्ज करते हैं। आप दोनों गेम दर्ज करें जल संबंधित आईपीएल 10 बात करने के लिए दूसरे के लिए एक अनुरोध भेजता है आईपी ऐड्रेस को प्राप्त करने के बाद आपका ब्राउज़र डाटा सेंटर को अनुरोध फॉरवर्ड कर देता है। विशेष रूप से संबंधित।

सर को। एक बात जब सरकार को किसी विशेष वेबसाइट तक पहुंचने का अनुरोध मिलता है तो डाटा प्रभात शुरू हो जाता है बीता को ऑप्टिकल फाइबर केबल के माध्यम से ट्रांसफर किया जाता है। विशेष रूप से लाइव प्रोजेक्ट के रूप में इन लाइफ प्रोसेस को कभी-कभी अपनी डेस्टिनेशन तक पहुंचने के लिए ऑप्टिकल फाइबर केबल के माध्यम से हजारों मील की यात्रा करनी पड़ती है। अपनी यात्रा के पिक्चर कटिंग इलाकों जैसे पहाड़ी इलाकों में समुद्र के नीचे से गुजरना पड़ता है। वैश्विक कंपनी है जो इन ऑप्टिकल केबल नेटवर्क आती है और बनाए रखती है। यह दृश्य दिखाते हैं कि एक जांच की मदद से गुंतकल फाइबर केबल बिछाने का काम कैसे किया जाता है। यहां से समुद्र में कैसे गिराया जाता है और यह समुद्र के ऊपर खाई बनाता है जिसमें ऑप्टिकल फाइबर केबल रखा जाता है।

व्हाट्सएप में एक विकेट ऑप्टिकल केबल नेटवर्क इंटरनेट की रेट है। लाइट को ले जाने वाले यह ऑप्टिकल फाइबर केबल की बाइक लेकर आपके दरवाजे तक खाली हो तो विक्रम से जुड़े होते हैं राउटर एंड लाइट कोसिगनल सिगनल परिवर्तित करता है इनका उपयोग पर कितने स्कोर प्रसारित करने के लिए किया जाता है। हालांकि यदि आप से ले ले डेटा का उपयोग करके इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं तो ऑप्टिकल केबल सिगनल क्वेश्चन टावर पर भेजना पड़ता है और चलता बच्चे कितने लाख की सेलफोन तक इलेक्ट्रोमैग्नेटिक देश के रूप में पहुंचता है क्योंकि इंटरनेट एक वैश्विक नेटवर्क है इसलिए चीजों को प्रबंधित करने के लिए एक ऑर्गेनाइजेशन होना महत्वपूर्ण हो गया है। जैसे आईपी ऐड्रेस, असाइनमेंट, जमीन, रजिस्ट्रेशन आदि यह संयुक्त राज्य अमेरिका में स्थित नामक एक संस्था द्वारा प्रबंध। किया जाता है और लैंडलाइन कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी उसके साथ तुलना करने पर इंटरनेट के बारे में एक आश्चर्यजनक बात डाटा ट्रांसफर करने में इसके ऑप्शन सी है।

जिसे आप गूगल डाटा सेंटर से देख रहे हैं आपको सिर्फ और वंश के विशाल कनेक्शन के रूप में भेजा गया है। क्या इंटरनेट पर डाटा ट्रांसफर कॉएफिशिएंट बनाता है जिस तरह से और 120 खंड में काटा जाता है जिन्हें ताकि चोट ट्रांसमिटेड के रूप में जाना जाता है। मान लेते हैं और वंश की सेटिंग्स को शरबत द्वारा अलग-अलग पैकेट वितरित किया जाता हैसकता। कितनी सिक्स डेज होते हैं वीडियो के बीच के साथ तू दिखता कितनी सीक्वेंस, संख्या और सरवर और आपके फोन की आईपी ऐड्रेसेस भी होते हैं इस जानकारी के साथ बैठक की पूर्व की ओर रूट किए जाते हैं। यह आवश्यक नहीं है कि सभी पैकेट कोई मार्ग से गुजारा जाए और प्रत्येक ताकि उस समय उपलब्ध स्वतंत्र मार्ग लेता है आपके फोन पर। पैकेट कोंडके चे कुल संख्या के अनुसार चयन किया जाता है। यह मामला है कि कृपया करके फोन तक पहुंचने में विफल रहता है तो खोई हुई ताकत को फिर से भेजने के लिए आपके फोन से एक्नॉलेजमेंट भेजी जाती है। इसकी तुलना एक अच्छे इंसान स्ट्रक्चर वाले पूछते नेटवर्क से करें लेकिन ग्राहक डेस्टिनेशन एड्रेस उसके बारे में बुनियादी नियमों का पालन नहीं करते हैं। इसके बारे में अक्सर सही डेस्टिनेशन तक पहुंचने में सक्षम नहीं होंगे इसी तरह इंटरनेट में हम दिन का पैकेज के कंपलेक्स ब्लॉक के प्रबंधन के लिए रिकॉर्ड नामक कुछ का उपयोग करते हैं। प्रोटोकॉल डाटा पैकेट कन्वर्जन कित एक पैकेट चिल्ली सॉस और डेस्टिनेशन एड्रेस, उसके अंदर लगने को राउटर आदि के नियमों को अलग-अलग अनुप्रयोगों के लिए निर्धारित करते हैं। वेब एप्लीकेशंस के लिए उपयोग किए गए प्रोटोकॉल अलग-अलग होते हैं। हमें उम्मीद है कि इस वीडियो में आपको अच्छी समझती होगी कि इंटरनेट कैसे काम करता है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *